सालुव वंश का संस्थापक कौन था

सालुव वंश का  संस्थापक  नरसिंह सालुव है जिसकी राजधानी विजयनगर थी।  सालुव वंश की स्थापना  सन् 1485 में  की गई। सालुव नरसिंह  का शासनकाल 1485 से  1491 तक है ।  सन् 1485 ई. में संगम वंश के  विरुपाक्ष द्वितीय की हत्या उसी के पुत्र ने कर दी थी और इस समय विजयनगर साम्राज्य में चारों ओर अशांति व अराजकता का वातावरण था। इन्ही सब परिस्थितियों का फायदा नरसिंह के सेनापति नरसा नायक ने उठाया।

नरसा नायक ने  विजयनगर साम्राज्य पर अधिकार कर लिया और सालुव नरसिंह को राजगद्दी पर बैठने के लिए आमंत्रित किया। नरसिंह सालुव के द्वारा नियुक्त नरसा नायक ने चोल, पांड्य  और चेरो पर आक्रमण कर इन्हें विजयनगर की प्रभुसत्ता को स्वीकार करने के लिए बाध्य किया। सालुव नरसिंह के बाद इम्माडि नरसिंह ने सन् 1491 – 1505 तक शासन किया। सन् 1505 में नरसा के पुत्र वीर नरसिंह ने इम्माडि नरसिंह की हत्या करके स्वयं सिंहासन पर अधिकार कर लिया और विजय नगर साम्राज्य में  तुलुव वंश की स्थापना की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *