हमारे नेतागण इस तरह से पार्टियां बदल रहे हैं कि इतनी तेजी से तो जलवायु में भी परिवर्तन नहीं हो रहा है।

यह राजनीति तो बेवफा प्रेमिका से भी बड़ी बेवफा निकली। न जाने कब जमींदार को चौकीदार बना दे पता ही नहीं चलता है। साइड बदलते ही नेताजी दानव से देवता … Read More

चलो लोकतंत्र को बचाते हैं !

लगता है हाथ में तिरंगा और संविधान लेकर लोकतंत्र को अपमानित करने का नया प्रचलन चल पड़ा है। कुछ मुट्ठी भर लोग यह तय करने चल पड़े हैं कि भारत … Read More